News

News Wrap: पढ़ें बुधवार सुबह की 5 बड़ी खबरें

देश में कोरोना वायरस का संक्रमण फैलता जा रहा है. पिछले दो दिनों में इसके मामले तेजी से बढ़े हैं. आम लोगों में इसका संक्रमण रोका जा सके इसके लिए देश के सैकड़ों जिलों में लॉकडाउन किया गया है. कई जगह कर्फ्यू जैसे हालात हैं तो कई जगह इसे लागू भी किया गया है. सरकारों की अपील के बावजूद लोग घरों में रुकना नहीं चाहते और लॉकडाउन को तोड़ते हुए घरों से बाहर निकल रहे हैं. लोगों को कैसे एक-दूसरे से दूर रखा जाए, इसे लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने मंगलवार रात राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में बताया और अगले 14 तारीख तक संपूर्ण देश में बंद का ऐलान कर दिया.

1. PM मोदी की अपील- घर में रहना ही अगले 21 दिन के लिए सबसे बड़ी राष्ट्रसेवा है

अपने संबोधन में उन्होंने कहा, हिंदुस्तान को बचाने के लिए, हिंदुस्तान के हर नागरिक को बचाने के लिए आज (मंगलवार) रात 12 बजे से, घरों से बाहर निकलने पर, पूरी तरह पाबंदी लगाई जा रही है. उन्होंने कहा, मुझे विश्वास है हर भारतीय संकट की इस घड़ी में सरकार के, स्थानीय प्रशासन के निर्देशों का पालन करेगा. 21 दिन का लॉकडाउन, लंबा समय है, लेकिन आपके जीवन की रक्षा के लिए, आपके परिवार की रक्षा के लिए, उतना ही महत्वपूर्ण है.

2. दुनिया भर में कोरोना के मरीजों की संख्या 4 लाख के पार, 18,901 लोगों की मौत

दुनिया भर में कोरोना के केस तेजी से बढ़ रहे हैं. महामारी का रूप ले चुके इस वायरस से अभी तक 18,901 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं, 4 लाख से ज्यादा लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं. भारत में इसके खतरे को देखते हुए 21 दिन के लिए पूर्ण रूप से लॉकडाउन कर दिया गया है. सबसे ज्यादा नुकसान इटली में हुआ है जहां 6,820 लोगों की मौत हो चुकी है. दुनिया भर के देशों से कोरोना वायरस से जुड़े अपडेट्स के लिए इस पेज को रिफ्रेश करते रहें.

3. नवरात्र में कोरोना से बचें, कन्याभोज और भंडारे को कहें न, बच्चों को न भेजें बाहर

कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए पूरा देश मंगलवार रात 12 बजे से 21 दिनों के लिए लॉकडाउन हो गया है. इसी बीच चैत्र नवरात्र भी शुरू हो गए हैं. नवरात्र 25 मार्च से लेकर 2 अप्रैल तक रहने वाले हैं. आमतौर पर इस समय जगह-जगह पर भंडारे और कन्या पूजन का आयोजन किया जाता है. लेकिन इस प्रकार के धार्मिक कार्यक्रम कन्याओं और आम लोगों के लिए बेहद खतरनाक साबित हो सकते हैं. नवरात्र में बच्चियों को ना ही कन्या पूजन के लिए आस-पड़ोस में भेजें और ना ही नजदीक में हो रहे भंडारों का प्रसाद लेने भेजें. लोगों का प्रत्यक्ष रूप से संगठित रहना कोरोना वायरस का खतरा बढ़ा सकता है. आपको घर में या घर से बाहर कहीं भी भीड़ में शामिल होने से बचें.

4.कोरोना: केंद्रीय विद्यालय का बड़ा फैसला, बिना एग्जाम स्टूडेंट होंगे प्रमोट

देश भर में कोरोना को लेकर हालात बदल चुके है. संपूर्ण लॉकडाउन से कर्फ्यू जैसा माहौल है. देश के हालातों के मद्देनजर केंद्रीय विद्यालय संगठन ने बड़ा फैसला लिया है. इस फैसले के अनुसार केंद्रीय विद्यालय में पढ़ने वाले कक्षा 1 से 8 तक के छात्र जिन्हें अंतिम परिणाम में ई ग्रेड मिला है, उन्हें बिना किसी परीक्षा के अगली कक्षा में पदोन्नत किया जा सकता है. तय नियमों के अनुसार छात्रों को ऐसे में सुधार परीक्षा के लिए उपस्थित होना पड़ता है, लेकिन इस बार ऐसा नहीं किया जाएगा.

5. कोरोना संकट के बीच सरकार के 10 बड़े ऐलान, यहां जानें-आपको क्या मिला

देश भर में कोरोना को लेकर हालात बदल चुके है. संपूर्ण लॉकडाउन से कर्फ्यू जैसा माहौल है. देश के हालातों के मद्देनजर केंद्रीय विद्यालय संगठन ने बड़ा फैसला लिया है. इस फैसले के अनुसार केंद्रीय विद्यालय में पढ़ने वाले कक्षा 1 से 8 तक के छात्र जिन्हें अंतिम परिणाम में ई ग्रेड मिला है, उन्हें बिना किसी परीक्षा के अगली कक्षा में पदोन्नत किया जा सकता है. तय नियमों के अनुसार छात्रों को ऐसे में सुधार परीक्षा के लिए उपस्थित होना पड़ता है, लेकिन इस बार ऐसा नहीं किया जाएगा.

Previous ArticleNext Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *