News

ICC ने तय किया गेंदबाजों के लिए टेस्ट क्रिकेट की तैयारी का समय

  • गेंदबाजों का इंतजार अन्य खिलाड़ियों की तुलना में लंबा होगा
  • ICC ने खेल बहाल करने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं

कोरोना वायरस महामारी के असर के कम होने के बाद टेस्ट क्रिकेट बहाल होने के लिए गेंदबाजों का इंतजार अन्य खिलाड़ियों की तुलना में लंबा होगा. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने उनके लिए तैयारी का समय दो से तीन महीने तय किया है, ताकि वे चोटों से बच सकें. सदस्य देशों ने कोविड-19 महामारी रोकने के लिए लगी पाबंदियों में ढील दी है और आईसीसी ने शुक्रवार को खेल बहाल करने के लिए दिशा- निर्देश जारी किए, लेकिन गेंदबाजों को वापसी के लिए थोड़ा ज्यादा इंतजार करना होगा, क्योंकि उनके चोटिल होने की संभावना अधिक होती है.

खेल की विश्व संचालन संस्था ने इन दिशा-निर्देशों में लिखा, ‘टेस्ट क्रिकेट में गेंदबाजों की तैयारी के लिए कम से कम आठ से 12 हफ्ते का समय चाहिए होगा.’ आईसीसी ने कहा, ‘गेंदबाजों को लंबे समय बाद खेल में वापसी पर चोटिल होने का ज्यादा जोखिम रहेगा.’ इसके अनुसार, ‘खिलाड़ियों विशेषकर गेंदबाजों की सुरक्षित और प्रभावित वापसी जरूरी होगी. अगर उनकी (गेंदबाजों की) तैयारी का समय सीमित होगा तो इससे ज्यादा चोटें लगेंगी.’

कोविड-19 के बाद क्रिकेट: प्रैक्टिस के दौरान खिलाड़ी नहीं जाएंगे टॉयलेट, अंपायर को नहीं देंगे कैप

पाकिस्तान को अगस्त में इंग्लैंड का दौरा करना है. जिसमें उसे तीन टेस्ट और इतने ही टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने हैं, इन मैचों का आयोजन बंद स्टेडियम में किया जाएगा. इंग्लैंड के 18 गेंदबाजों ने आगामी सत्र की तैयारियों के लिये गुरुवार से सात कांउटी मैदानों में व्यक्तिगत ट्रेनिंग सत्र शुरू कर दिए.

आईसीसी ने कहा कि टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में गेंदबाजों को वापसी की तैयारी के लिए कम से कम पांच से छह हफ्ते का समय जरूरी होगा. वहीं, वनडे के लिए तैयारी का न्यूनतम समय छह हफ्ते तय किया गया है.

ये भी पढ़ें … ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज की दो टूक- गेंद पर लार का इस्तेमाल कैसे रुक सकता है

आईसीसी ने टीमों को ज्यादा खिलाड़ियों के इस्तेमाल की सलाह दी और गेंदबाजों पर पड़ने वाल भार के प्रति सतर्कता बरतने की सलाह भी दी. साथ ही उसने कहा कि टेस्ट क्रिकेट की तैयारी के लिए कम से कम आठ से 12 हफ्तों का समय जरूरी होगी.

इस महामारी के चलते अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट निलंबित है जिससे दुनियाभर में तीन लाख से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है. अन्य खेलों की तरह क्रिकेट मार्च से ही स्थगित है.

Previous ArticleNext Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *