News

हिट रहा RIL का राइट्स इश्यू ,84000 करोड़ रुपये का मिला आवेदन

  • रिलायंस इंडस्ट्रीज के निदेशक मंडल की बैठक 10 जून को है
  • राइट्स इश्यू से 53,124 करोड़ की रकम जुटाने का था लक्ष्‍य

उद्योगपति मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) ने भारत के सबसे बड़े 53,124.2 करोड़ रुपये के राइट्स इश्यू को पूरा कर लिया है. RILका यह राइट्स इश्यू इश्यू 20 मई को खुला था, जो 3 जून को बंद हो गया है. इस इश्यू को अंतिम दिन यानी 3 जून को 1.59 गुना सब्सक्रिप्शन मिला है. आपको बता दें कि यह देश का सबसे बड़ा राइट्स इश्यू है. वहीं, किसी गैर-वित्तीय कंपनी द्वारा पिछले एक दशक में लाया गया विश्व का सबसे बड़ा राइट इश्यू है.

शेयरधारकों को मुकेश अंबानी का धन्‍यवाद

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने कहा कि मैं अपने शेयरधारकों को इस राइट्स इश्यू में भाग लेने के लिए धन्यवाद व्यक्त करता हूं. धीरूभाई अंबानी के समय से ही हमारे शेयरधारक मजबूती का सबसे बड़ा जरिया रहे हैं.

ये पढ़ें-RIL के राइट इश्यू की शुरुआत आज से, जानें किसे और कैसे मिलेगा फायदा

वहीं, रिलायंस इंडस्ट्रीज ने एक बयान में बताया कि कंपनी के शेयरों को मिली कुल बोली का अनुमानित मूल्य करीब 84 हजार करोड़ रुपये है. यानी यह कंपनी के 53,124.2 करोड़ रुपये के लक्ष्‍य से कहीं ज्‍यादा है. बहरहाल, राइट्स इश्यू शेयरों के आवंटन को मंजूरी देने के लिए रिलायंस इंडस्ट्रीज के निदेशक मंडल की बैठक 10 जून को होगी. इन राइट्स इश्यू शेयरों को बीएसई और एनएसई पर अलग-अलग 12 जून 2020 को सूचीबद्ध कराए जाने की उम्मीद है.

कहां होगा फंड का इस्‍तेमाल?

बीते दिनों रिलायंस इंडस्‍ट्रीज की ओर से जानकारी दी गई थी कि कंपनी राइट्स इश्यू से मिलने वाली रकम का तीन- चौथाई का इस्तेमाल कुछ कर्ज चुकाने में करेगी. कंपनी के मुताबिक कुल रकम में से 39,755.08 करोड़ रुपये की राशि कंपनी द्वारा लिये गए कर्ज के भुगतान के लिए किया जाएगा. शेष 13,281.05 करोड़ रुपये का इस्तेमाल कंपनी के सामान्य कार्यों में किया जाएगा. आपको बता दें कि राइट्स इश्यू के तहत आरआईएल के प्रत्येक 15 शेयर के बदले एक शेयर दिया जाएगा. यह शेयर 1,257 रुपये प्रति शेयर के मूल्य पर आवंटित किये जाएंगे.

क्‍या होता है राइट्स इश्यू?

दरअसल, स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड कंपनियों को जब पैसों की जरूरत होती है तो वो राइट्स इश्यू का रास्ता चुनती हैं. राइट्स इश्यू के जरिए कंपनी अपने शेयरधारकों को अतिरिक्त शेयर खरीदने का मौका देती है. इसके लिए कंपनी ही अवधि तय करती है और इसी अवधि में आप शेयर खरीद सकते हैं.

Previous ArticleNext Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *