News

वंदे भारत से लेकर घरेलू उड़ानों तक… हरदीप पुरी ने गिनाई उपलब्धि

  • विदेश में फंसे 30 हजार भारतीय लाए गए वापस
  • हरदीप पुरी बोले- उड्डयन मंत्रालय हमेशा फोरफ्रंट पर

करीब दो महीने के बाद आज से राहत की एक और बड़ी किश्त आई है. आज सुबह से घरेलू विमान सेवाएं शुरू हो चुकी हैं. पश्चिम बंगाल और आंध्र प्रदेश को छोड़कर देश के तमाम बड़े शहरों में यात्री विमानों की सेवा शुरू हो चुकी है. घरेलू विमानों की सेवा के शुरू होने पर केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि हम हमेशा तैयार रहते हैं.

केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी ने कहा, ‘हम 6 मई 2020 से वंदे भारत की उड़ानों में 30,000 से अधिक फंसे हुए भारतीयों को वापस ले आए. हमने 26 मार्च 2020 के बाद से कार्गो उड़ानों में 917 टन मेडिकल और आवश्यक सामान पहुंचाए. आज से हम घरेलू उड़ानों को फिर से शुरू कर रहे हैं. नागरिक उड्डयन मंत्रालय हमेशा फोरफ्रंट पर रहा है.’

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

यात्रियों से गुलजार हुए एयरपोर्ट

आखिरकार करीब दो महीने के लंबे इंतजार के बाद दिल्ली एयरपोर्ट मामूली तौर पर ही सही यात्रियों की चहलपहल से गुलजार हो गया. कोरोना की वजह से यात्री सेवाओं के लिए उड़ान बंद होने के करीब दो महीने बाद आज जब घरेलू उड़ान सेवा बहाल हुई तो एयरपोर्ट की तस्वीर बदली-बदली थी. यात्री मास्क में थे, तो कुछ ऐसे भी जो पीपीई किट में एयरपोर्ट पहुंचे थे.

एयरपोर्ट के स्टाफ भी कोरोना संकट को देखते हुए पूरे सावधान नजर आए. हेडर गियर से लेकर मास्क और ग्लब्स तक. संक्रमण से बचने के पूरे एहतियात के साथ. सोशल डिस्टेसिंग भी साफ तौर पर नजर आ रहा था. इसके लिए एयरपोर्ट पर बार-बार उद्घोषणा भी की जा रही थी.

बंगाल और आंध्र प्रदेश को छोड़ पूरे देश में हवाई सेवा शुरू

दिल्ली से पुणे की पहली फ्लाइट सुबह पौने पांच बजे ही थी, लिहाजा यात्रियों का आना आधी रात से ही शुरू हो गया था. चूंकि तमाम सख्त गाइडलाइंस के साथ घरेलू विमान यात्रा का पहला दिन था इसलिए यात्री एहतियात के तौर पर समय से काफी पहले पहुंच गए थे. वैसे भी गाइडलाइंस में साफ तौर पर कहा गया था कि यात्री दो घंटे पहले पहुंचे.

Previous ArticleNext Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *