News

कोरोना के डर से स्पेन से लौटी लड़की,आइसोलेशन सेंटर की बदइंतजामी पर थरूर का ट्वीट

  • आइसोलेशन सेंटर में बदइंतजामी
  • स्पेन से लौटी लड़की ने बताई परेशानी
  • शशि थरूर बोले चीजें और दुरुस्त हो

कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए स्पेन से भारत आई एक लड़की को दिल्ली एयरपोर्ट पर काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा. इस लड़की की मां ने दावा किया उसकी बेटी को 5 घंटे तक एयरपोर्ट पर रहना पड़ा, इस दौरान उसे पानी का एक घूंट तक नहीं दिया गया.

लड़की की मां ने ट्वीट कर अपनी बेटी की परेशानी सोशल मीडिया पर रखी. इस ट्वीट पर जब कांग्रेस नेता शशि थरूर की नजर पड़ी तो उन्होंने कहा कि इनके साथ जो कुछ हुआ वो गलत है, हमें और सुविधा बढ़ानी चाहिए.

5 घंटे तक एयरपोर्ट पर बैठी

दरअसल टिंकरबेल नाम के एक ट्वीटर अकाउंट से एक महिला ने ट्वीट कर कहा कि जब से उसकी बेटी स्पेन से लौटी है उसके साथ भयावह अनुभव हो रहे हैं. महिला ने कहा कि सुबह लगभग 8.30 बजे उसकी बेटी फ्लाइट से उतरी. एयरपोर्ट पर पांच घंटे तक उन्हें रोक कर रखा गया, इस दौरान उन्हें पानी भी पीने के लिए नहीं दिया गया. महिला ने दावा किया कि एयरपोर्ट के स्टाफ का रवैया बेरुखी भरा था. वे विदेश से आए लोगों को यहां तक कह रहे थे कि हमसे दूर रहो, तुम सब मरने वाले हो.

पढ़ें- कर्नाटक में देर रात कोरोना के 2 नए केस की पुष्टि, देश में 126 हुई मरीजों की संख्या

गंदे कमरे में रहने की व्यवस्था

स्पेन से लौटी युवती की मां ने ट्वीट कर कहा कि इसके बाद उन्हें एक बस में बिठाया गया, इस दौरान भारी सामान को उठाने की कोई व्यवस्था नहीं थी, दोपहर 3 बजे उन्हें नरेला स्थित आइसोलेशन सेंटर ले जाया गया. यहां पर लिफ्ट की व्यवस्था नहीं थी. महिला ने कहा कि मेरी बेटी को तीसरे फ्लोर में अपने सूटकेस को लेकर चढ़ना पड़ा. यहां पर जो कमरा उन्हें रहने को मिला वो भयावह था. इसमें इंसान क्या जानवर भी नहीं रह सकते थे.

शशि थरूर का गया ध्यान

महिला ने ट्वीट के जरिए अपनी बेटी की परेशानियों को सोशल मीडिया पर रखा. इस पर जब कांग्रेस सांसद शशि थरूर की नजर पड़ी तो उन्होंने कहा कि इनके साथ बुरा हुआ है. हमें चीजें और भी दुरूस्त करनी चाहिए. हालांकि इस महिला ने बाद में अपने ट्वीट कर डिलीट कर दिया और ट्विटर अकाउंट को प्रोटेक्ट मोड पर डाल दिया.

पढ़ें- कोरोना की वैक्सीन को सिर्फ अपने लिए खरीदना चाह रहा US! भड़का जर्मनी

बता दें कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए विदेशों में फंसे हुए भारतीय स्वदेश आ रहे हैं. सरकार दिल्ली समेत देश के दूसरे शहरों में इनके रहने की व्यवस्था कर रही है.

Previous ArticleNext Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *