News

काशी में कोरोना का पहला केस, दुबई से लौटा था युवक, पूरा गांव लॉकडाउन

  • फूलपुर क्षेत्र के ग्राम छितौरा सहमलपुर का निवासी है युवक
  • गांव के निवासी हर नागरिक की थर्मल स्कैनिंग की तैयारी

उत्तर प्रदेश के वाराणसी जिले में कोरोना वायरस के पहले मामले की पुष्टि हुई है. दुबई से लौटे युवक के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद प्रशासन ने पूरे गांव को लॉकडाउन कर दिया है. पीड़ित युवक का उपचार दीनदयाल उपाध्याय राजकीय अस्पताल में चल रहा है. कोरोना पॉजिटिव 30 साल का युवक फूलपुर थाना क्षेत्र के ग्राम छितौरा सहमलपुर का निवासी है.

अब जिला प्रशासन गांव के सभी नागरिकों की थर्मल स्कैनिंग कराने की तैयारी में है. वहीं, पीड़ित के परिजनों के सैंपल की जांच जांच रविवार को कराई जाएगी. पुलिस प्रशासन की टीम गांव पहुंची और लॉकडाउन कराया. बताया जाता है कि पीड़ित युवक 17 मार्च को दुबई से दिल्ली आया और वहां से ट्रेन से 18 मार्च को वाराणसी पहुंचा. वह टेम्पो से अपने गांव पहुंचा.

यह भी पढ़ें- कोरोना इफेक्ट: वैष्णो देवी यात्रा-बनारस में आरती बंद, SC में भी खुलेंगे सिर्फ 4 कोर्ट रूम

गले में खराश की शिकायत लेकर युवक 19 मार्च को दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल पहुंचा था. युवक का सैंपल जांच के लिए बीएचयू भेजा गया, जहां से शनिवार को रिपोर्ट आई. युवक पॉजिटिव पाया गया. चिकित्सकों के अनुसार इसके गले में खराश के अलावा अन्य कोई सिम्पटम नहीं है. उसे अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है. उसका उपचार किया जा रहा है.

यह भी पढ़ें- कोरोना वायरस का मंत्र से शर्तिया इलाज कर रहे थे ‘कोरोना बाबा’, हुए गिरफ्तार

गौरतलब है कि वाराणसी प्रशासन ने कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए काशी विश्वनाथ को श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिया है. वहीं काशी के कोतवाल बाबा काल भैरव मंदिर और संकट मोचन मंदिर भी श्रद्धालुओं के लिए एहतियातन बंद किया जा चुका है. बता दें कि देश में अब तक कुल 333 मामले सामने आए हैं, जिनमें से 27 उत्तर प्रदेश के हैं. प्रदेश सरकार ने एहतियातन धार्मिक और आध्यात्मिक आयोजनों पर भी रोक लगा दी है.

Previous ArticleNext Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *