News

असम: गैस कुएं में 33 दिन बाद भी नहीं बुझी आग, बाढ़ के कारण काम प्रभावित

  • बाढ़ के पानी से प्रभावित हो रहा है कार्य
  • नदियों में तेजी से बढ़ रहा है बारिश का पानी

असम के तिनसुकिया जिले में बघजान स्थित ऑयल इंडिया लिमिटेड के गैस के कुएं में आग लग गई थी. ऑयल इंडिया लिमिटेड ने रविवार को न्यूज़ एजेंसी पीटीआई से कहा, ‘आग पर काबू पाने के लिए हमलोग लगातार प्रयास कर रहे हैं, लेकिन इलाके में बाढ़ का पानी हमारे कार्य में बाधा बन रहा है.’

हार्वर्ड के डॉ आशीष बोले- कोरोना में रेमडेसिवीर और डेक्सामेथासोन ही प्रभावी

कंपनी ने बयान में कहा, ‘बाढ़ के चलते साइट पर काम के लिए की गई तैयारी पूरी तरह प्रभावित हुई है. मार्ग बनाने के लिए काम दिन के समय किया गया था. बाघजन और उसके आसपास की नदियों में पानी तेजी से बढ़ रहा है. वहीं, डांगोरी नदी ओवरफ्लो हो रही है.’

9 जून को अचानक आग लग गई थी

कंपनी ने आगे बताया, ‘बाढ़ का पानी और मलबा सीएमटी वॉटर पंप इलाके में पहुंच गया है. अब ऐसी स्थित में साइट पर ऑपरेशन को अंजाम देना काफी असुरक्षित हो गया है. भारी बारिश के चलते इलाके में बाढ़ आ गई है. सभी कनेक्शन रोड भी बाढ़ के पानी से जलमग्न हो गए हैं. डूमडूमा पुल और बाघजन रोड इससे टूट गया है जबकि प्लास्टिक पार्क रोड को तिनसुकिया जिला अथॉरिटी के द्वारा वाहनों के लिए बंद कर दिया गया है.’

बंगाल: BJP कार्यकर्ताओं का आरोप, वर्चुअल रैली के दौरान फेंके गए बम

कंपनी ने कहा कि कुएं तक पहुंचने के लिए सड़क बनाने पर काम चल रहा है. मौसम विभाग ने 30 जून तक इलाके में तेज बारिश होने की संभावना जताई है.

कई दिनों से गैस के कुएं से गैस बाहर निकल रही थी. 9 जून को अचानक इसमें आग लग गई थी. आग इतनी तेज थी कि इसकी लपटें दो किलोमीटर दूर से भी देखी जा सकती थीं. आग बुझाने के काम में वायुसेना की भी मदद ली जा रही थी. ऑल इंडिया ने एक बयान में कहा था कि कुएं की सफाई चल रही थी, इसी दौरान उसमें आग लग गई थी.

Previous ArticleNext Article

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *